योगी के मंत्री ने हिंदी भाषा के समर्थन में अपनी आवाज की बुलंद, कहा जो लोग भारत में रहते हैं उन्हें हिंदी से प्यार जरूर करना चाहिए

Spread the love

देशभर में भाषा को लेकर शुरू हुआ विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है फिल्म स्टार अजय देवगन और साउथ के सुपरस्टार पिक्चके बीच ट्विटर पर भाषा को लेकर जुबानी जंग शुरू हुआ था जो कि अब राष्ट्रीय मुद्दा बन गया हैं।

कुछ लोग हिंदी को राष्ट्रभाषा बता रहे हैं तो वहीं कुछ लोग देश की राष्ट्रभाषा हिंदी नहीं हो सकते ऐसा कह रहे हैं इस बीच यही नहीं निषाद यहीं नहीं रुके उन्होंने यह तक कह डाला कि जो लोग हिंदी से प्यार नहीं करते।

 सबसे पहले हिंदी है, उसके बाद कोई दूसरी भाषा

संजय निषाद ने कहा कि क्षेत्रीय भाषाओं का सम्मान होता है लेकिन सबसे पहले हिंदी है इसके बाद कोई अन्य दूसरी भाषा आपको बता दें कि भाषा को लेकर यह पूरा विवाद उस वक्त शुरू हुआ जब देश के गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि अलग-अलग राज्यों के लोगों को हिंदी में संवाद करना चाहिए ना कि अंग्रेजी में|

जिसके बाद इस पूरे विवाद को अजय देवगन और सुदीप किच्चा के बीच ट्विटर पर जुबानी जंग के चलते हवा मिले मिली । अजय देवगन के ट्वीट के बाद यह मामला तूल पकड़ गया।

अजय देवगन ने सुदीप किच्चा को टैग करते हुए लिखा था, मेरे भाई, आपके अनुसार अगर हिंदी हमारी राष्ट्रीय भाषा नहीं है तो आप अपनी मातृभाषा की फ़िल्मों को हिंदी में डब करके क्यूँ रिलीज़ करते हैं? हिंदी हमारी मातृभाषा और राष्ट्रीय भाषा थी, है और हमेशा रहेगी।

अजय देवगन के इस ट्वीट के बाद सुदीप ने लिखा, हेलो अजय देवगन सर मैंने क्यों वह बात कही है उसका परिपेक्ष्य बिल्कुल अलग है जो आपने समझा। जब मैं आपसे मिलूंगा तो बताऊंगा कि मैंने वह बात क्यों कही थी। मैं आपको दुखी करना या भड़काना नहीं चाहता था, ना ही कोई बहस शुरू करना चाहता था, आखिर मैं ऐसा क्यों करूंगा सर।

इसी तरह की और जानकारी के लिए हमारे Facebook पेज को लाइक करें और InstagramTwitter पे हमें फ़ॉलो करें। आप इस विषय में कोई भी जानकारी कॉमेंट्स के द्वारा हम तक पहुँचा सकते हैं। आप के सुझाव हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं|