तो क्या अब बदल जाएगा लखनऊ का नाम? जाने लखनऊ को क्यों कहते थे लखनपुर या लक्ष्मणपुर?

Spread the love

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के नाम बदलने की चर्चा जोरों पर हैं।

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की मुलाकात के बाद दोनों नेताओं ने लखनऊ में बैठक की और बाद में सभी मंत्रियों के साथ रात का भोजन भी किया लेकिन लोगों की नजर मुख्यमंत्री के ट्वीट पर जा अटकी।

उस ट्वीट में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ का नाम बदल दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा शेषावतार भगवान श्री लक्ष्मण जी की पावन नगरी लखनऊ में आपका हार्दिक स्वागत व अभिनंदन|

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करते हुए ट्वीट में लिखा था कि शेषावतार

भगवान श्री लक्ष्मण जी की पावन नगरी लखनऊ में आपका हार्दिक स्वागत व अभिनंदन। वैसे तो, इस ट्वीट में नाम बदलने के कोई संकेत तो नहीं दिया गया हैं, लेकिन सोशल मीडिया की दुनिया में इसे एक बड़ी हिंट के तौर पर देखा जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने ‘लक्ष्मण की पावन नगरी’ लिखकर अटकलों के बाजार को गर्म कर दिया है।

योगी बदल चुके हैं कई जगह का नाम

लोगों को ऐसा इसलिए लग रहा है क्योंकि कई दफा योगी सरकार ने इसी प्रकार से कई जगहों के नाम बदले हैं।

ऐसे में अगर लखनऊ का नाम बदला जाता हैं तो इसमें कोई हैरानी नहीं होगी। बताया जा रहा है कि रोड, चौक, मोहल्लाें, एयरपोर्ट के नाम भी बदले जा सकते हैं।

लखनऊ को क्यों कहते थे लखनपुर या लक्ष्मणपुर

भारत के प्राचीन इतिहास और पौराणिक मान्यताओ को देखे तो लखनऊ शहर भगवान लक्ष्मण ने बसाया था। उत्तर भारत में लक्ष्मण को लखन भी कहते हैं। लखनऊ उस क्षेत्र में स्थित है जिसे ऐतिहासिक रूप से अवध क्षेत्र के नाम से जाना जाता था।

लखनऊ प्राचीन कौशल राज्य का हिस्सा था। मान्यताएं हैं कि प्राचीनकाल में इसे लक्ष्मणावती, लक्ष्मणपुर या लखनपुर के नाम से जाना जाता था, जो बाद में बदलकर लखनऊ हो गया। यहां से अयोध्या की दूरी मात्र 80 मील है। 11वीं शताब्दी तक लखनऊ को लखनपुर या लक्ष्मणपुर के नाम से जाना जाता था। 

इसी तरह की और जानकारी के लिए हमारे Facebook पेज को लाइक करें और InstagramTwitter पे हमें फ़ॉलो करें। आप इस विषय में कोई भी जानकारी कॉमेंट्स के द्वारा हम तक पहुँचा सकते हैं। आप के सुझाव हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं|